उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Wednesday, November 26, 2014

दया बेन की मा कन व्हेलि , क्या पैरद व्हेलि अर मुंबई कब आणि च ?

 Best  Harmless Garhwali Humor , Satire on addiction TV Soap Opera
  

                                                                दया बेन की मा कन व्हेलि , क्या पैरद व्हेलि अर मुंबई कब आणि च ?
                                                                  

                                                                                  टीवी सीरियल प्रेमी   ::: भीष्म कुकरेती

                    जब बिटेन याने गुरुबार स्याम 21 /11 /2014 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा ' मा दिखये गे बल दया बेन की ब्वे , जेठालाल की सास अर  चम्पक चाचा की समदण अमदाबाद बिटेन मुंबई आणि च तो हमर मुहल्ला मा संसय कु तूफ़ान , क्या ह्वाल -क्या नि ह्वाल कु ज्वार -भाटा अर आज बि बिजली जालि कि ना जन प्रश्नुं  जंजाल खड़ ह्वे गे। 
  गुरुबार से पैलि मि ऑफिस जाणु हूँ त मथ्याक फ़्लैट से भुंदरा बौ उर्फ़ भुप्पी भाभी आवाज दींदि छे ," भीष्म ब्याळि 'तारक मेहता ' मा टप्पुक काम म्यार मौन्टी जन ही छौ ना ?"
या गेट पर रिटायर्ड गजटेड ऑफिसर रावत जी मिलदा हि पुछदा छा "भीष्म !  डाइरेक्टर ये पोपट लाल पत्रकारौ ब्यौ किलै नि कराणु होलु ?"
या बबिता जी प्रेमी सिगरेट विक्रेता पुछद छौ कि बल ब्याळि मीन 'तारक मेहता ' नि द्याख।  ब्याळि बबिता जीक क्या ड्रेस छे पैरीं ? साब  यि जेठालाल बबिता जीक पैथर इथगा किलै रौंद पड़्यूं ?
पर जब बिटेन 'तारक मेहता ' मा दर्शकुं तैं पता चौल कि दया बेन की माँ मुंबई आणि च त मुहल्ला ऊर्जावान ह्वे गे , मुहल्ला मा गोकुलधाम से अधिक उत्साह ऐ गे , मुहल्लावासी प्रश्नकाल का प्रश्न पूछनेर सांसद बण  गेन। 
वा पली बिल्डिंगाकि मिसेज घोरपडे पुछण लग बल - भीषम जी ! दयाबेन की मा मेरी सासु आई (माँ ) जन होलि ज्वा अपड़ काम अफिक करदि  या मेरी माँ  जन होलि ज्वा सब काम मेरी भौजुं से करांद या तुमर मा जन होलि ज्वा भाषण बिंडी दींदि ?
शुक्रवारो कुण म्यार नौनु योगा क्लास नि गे।  कारण पुछण पर बुलण लग बल चूँकि म्यार ध्यान दयाबेन -सुंदरलाल की माँ पर च तो योगा क्लास मा मीन ठीक से ध्यान नि दीण इलै आज योगा क्लास नि जाणु छौं।  दयाबेन -सुंदर लाल की ब्वे व्यक्तिगत समस्या ह्वे गे। 
मीन अपण गांवक मुंबई वासी चंद्रमोहन कुण फोन कार कि वैकि मा कब आणि च त उत्तर दीणो जगा मि तैं पूछ बल -"भाई साब क्या सचमुच मा दया बेन की माँ मुंबई आली ? जेठालाल की तो परेशानी बढ़ जाली कि ना ?"  जेठालाल की समस्या पारिवारिक समस्या बण गे।
सी शनिबारौ कुण हमर बिल्डिंग मा रिडेव्लोप्मेंट कमेटी की मीटिंग छे पर चूँकि ' तारक मेहता ' मा जेठालाल अपण सासुक आणै खबर  से त्रस्त छौ सबि कमेटी मेंबर बहस मा उळजि गेन कि बिचारो जेठालाल कु क्या होलु ? क्या जेठालाल की सास जेठालाल कु नया नाम पेठालाल धर देलि ? अवश्य ही मिस्टर   अय्यरन दयाबेन  की माँ क दगुड़ दीण अर फिर समज ल्यावो जेठालाल की खैर नी च।  हमर कमेटी मेंबर जेठालाल की सास -समस्या मा इथगा गंभीर ह्वेक विचार विमर्श करण लग गेन कि बिल्डिंग रिडेव्लोप्मेंट की समस्या अगला हफ्ता जोग ह्वे गेन। जेठालाल की समस्या बिल्डिंग की सहकारी सरदर्द  ह्वे गे। 
मुहल्ला मा रविवारौ कुण सफाई आंदोलन का वास्ता कार्यक्रम छौ।  किन्तु आयोजक घंघतोळ मा छा कि जेठालाल कु सासु आण पर क्या होलु , जेठालाल कु स्याळ सुंदरलाल क्या उपद्रव मचालु अर गोकुलधाम सोसायटी मा दयाबेन की माँ क स्वागत कै तरह से होलु ? चूँकि आयोजक जौन  सफै आयोजन का पैसा दीण छौ वो ही घंघतोळ मा छा तो सफाई आंदोलन याने फोटो सेसन अगला हफ्तों वास्ता पोस्टपोन करे गे।  जेठालाल की घंघतोळ मुहल्ला की घंघतोळ बण गे। 
मीन अपण विधायक का वास्ता 'रिवर लिंकेज इन इण्डिया ' भाषण लेखिक विधायक जी तैं दीण छौ।  भाषण तयार छौ अर मीन विधायक जी तैं फोन कार बल कै समय औं ? विधायक जीक उत्तर छौ " भीष्म जी जब तक यु दयाबेन की माँ वाळ एपिसोड खतम नि ह्वावु , जेठालाल की समस्या  खतम नि हूंद  तुम नि आवो।  उन बि म्यार भाषण दिसंबर मा च " जेठालाल की समया देस की समस्या बण गे। 
अब म्यारी हाल देख ल्यावो ऊख म्यार गाँ मा पलायन की समस्या च , उजड़्यां कुड़ूं समस्या च , गैरसैण की ज्वलंत समस्या च अर मि जेठालाल की समस्या पर लेख लिखणु छौं।  जेठालाल की समस्या गढ़वाल की भी समस्या ह्वे गे। 


 
Copyright@  Bhishma Kukreti 25  /11 /2014   

   *लेख की   घटनाएँ ,  स्थान व नाम काल्पनिक हैं । लेख में  कथाएँ चरित्र , स्थान केवल व्यंग्य रचने  हेतु उपयोग किये गए हैं। 

Best of Garhwali Humor in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas; Best of Himalayan Satire in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas; Best of  Uttarakhandi Wit in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas; Best of  North Indian Spoof in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas ; Best of  Regional Language Lampoon in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas; Best of  Ridicule in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas ; Best of  Mockery in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas; Best of  Send-up in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas; Best of  Disdain in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas; Best of  Hilarity in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas; Best of  Cheerfulness in Garhwali Language on Addiction of TV Soap Operas;  Best of Garhwali Humor in Garhwali Language from Pauri Garhwal on Addiction of TV Soap Operas; Best of Himalayan Satire in Garhwali Language from Rudraprayag Garhwal on Addiction of TV Soap Operas; Best of Uttarakhandi Wit in Garhwali Language from Chamoli Garhwal on Addiction of TV Soap Operas; Best of North Indian Spoof in Garhwali Language from Tehri Garhwal on Addiction of TV Soap Operas; Best of Regional Language Lampoon in Garhwali Language from Uttarkashi Garhwal on Addiction of TV Soap Operas; Best of Ridicule in Garhwali Language from Bhabhar Garhwal on Addiction of TV Soap Operas; Best of Mockery  in Garhwali Language from Lansdowne Garhwal; Best of Hilarity in Garhwali Language from Kotdwara Garhwal on Addiction of TV Soap Operas; Best of Cheerfulness in Garhwali Language from Haridwar on Addiction of TV Soap Operas;