उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Monday, December 16, 2013

ग्रामीण उत्तराखंड में पर्यटन की विशिष्ठ विशेषताएं

Exclusive Features of Uttarakhand Tourism

(Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series--18  )

                                          उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन -भाग 18 

                                                       लेखक : भीष्म कुकरेती                              
                                                    (विपणन व विक्री प्रबंधन विशेषज्ञ )

   उत्तराखंड के  पहाड़ी क्षेत्र की दुनिया में अभिनव अपनी विशेषतम विशेषताएं हैं जिसके कारण पहाड़ी क्षेत्र में पर्यटन उद्यम विकास आवश्यक है। 
 सर्वप्रथम उत्तराखंड चीन की सीमा पर स्थित है।   चीन से सुरक्षा दृष्टि से पहाड़ी क्षेत्रों में जनसंख्या में कमी नही आनी चाहिए और पर्यटन उद्यम व कृषि उद्यम ही  ऐसे उद्यम हैं जो पलायन को रोकने में सक्षम हैं। 
 दुनिया में किसी वर्ग विशेष के लिए इतने महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल  एक छोटे क्षेत्र में नही हैं जितने कि उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्र में हैं।  

इसाईयों के धर्मस्थल वैटिकन शहर में केवल वैटिकन सिटी ही एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है।  रोम शहर के अंदर वैटिकन सिटी है।  
इस्लाम धर्मावलम्बियों के धार्मिक स्थल मक्का -मदीना का विश्लेषण करें तो इस क्षेत्र में केवल दो ही महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल हैं। 
यहूदियों के लिए इजरायल में कुछ हे स्थल महत्वपूर्ण हैं। 
इसाइयों के लिए इजरायल में कुछ ही महत्वपूर्ण स्थल हैं ।
बुद्ध अनुयाइयों के लिए इतने धार्मिक स्थल इस तरह छोटे क्षेत्र में कहीं नहीं है जैसे हिंदुओं , सिखों के लिए उत्तराखंड में हैं। 
जैन धर्मावलम्बियों की भी यही स्थिति है। 
हिंदुओं के लिए सैकड़ों धार्मिक स्थल महत्वपूर्ण हैं किन्तु एक साथ इतने महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल भारत में कहीं नही मिल सकते हैं। 
उदाहरणर्थ - द्वारिका , कन्याकुमारी , जगन्नाथ पूरी , तिररुपति , वैष्णो देवी , आदि में केवल एक या दो धार्मिक स्थल हैं। 
मध्य हिमालय के कारण उत्तराखंड की अपनी विशिष्ठ विशेषताओं के कारण यह स्थल हजारों सालों से पर्यटकों व आम जनता को आकर्षित करता आता रहा है। 
बहुत कम समय में किसी महत्वपूर्ण  धार्मिक क्षेत्र में इतने भौगोलोक परिवर्तन देखने को नही मिलते हैं जितने उत्तराखंड में मिलते हैं।  
भौगोलिक रहस्यात्मक दृष्टि से भी उत्तराखंड का स्थान विशष्ठ है। 
धार्मिक रहस्यात्मक दृस्टि से भी उत्तराखंड बेमिसाल है।
आध्यात्मिक पर्यटन क्षेत्र में  तो हजारों साल से उत्तराखंड का एकछत्र राज्य रहा है। 
वानस्पतिक दृष्टि से भी उत्तराखंड की अपनी अलग पहचान है। 
पशु -पक्षियों प्रजातियों के मामले में भी उत्तराखंड विशष्ठ है। 
उत्तराखंड इ निकलने वाली कई नदियां भारतवैश्यों के लिए पवित्र हैं। इतनी साड़ी पवित्र नदियां संसार में इतने छोटे क्षेत्र में नही पायी जाती हैं। 
गंगा जल की विशेषता तो आज भी सारे विश्व में एक रहस्य है। 
औषधीय वनस्पति के मामले में तो एक समय चरक व सुश्रुवा ऋषियों को यहाँ भ्रमण करना पड़ता था।  यदि आज औषधीय वनस्पतियों पर ध्यान दिया जाय तो औषधीय पर्यटन में उत्तराखंड के पहाड़ ससर्वोत्तम  पर्यटक स्थल सिद्ध हो सकते हैं। 
साहसिक पर्यटन में भी उत्तराखंड के पहाड़ अपने आप में विशिष्ठ हैं। 
यह एक ऐतिहासिक सच है कि मूल पहाड़ियों ने पर्यटकों का नकारात्मक दोहन कभी नही किया । याने कि सामाजिक  दृष्टि से भी उत्तराखंड पर्यटनगामी है। आज भी पहाड़ी भीख  को तुच्छ ही मानते हैं। उत्तराखंड का समाज आतिथ्य दर्शन में सशक्त समाज है। 







Copyright @ Bhishma Kukreti 16 /12/2013 
Contact ID bckukreti@gmail.com 
Tourism and Hospitality Marketing Management for Garhwal, Kumaon and Hardwar series to be continued ...

उत्तराखंड में पर्यटन व आतिथ्य विपणन प्रबंधन श्रृंखला जारी …

                                    References

1 -भीष्म कुकरेती, 2006  -2007  , उत्तरांचल में  पर्यटन विपणन परिकल्पना , शैलवाणी (150  अंकों में ) , कोटद्वारा , गढ़वाल 


Exclusive Features of Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Malla Dhangu Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Talla Dhangu Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Bichhlaa Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Gangasalan Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Lansdowne Tehsil Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Pauri Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Chamoli Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Kedar valley Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Neeti –Mana regions Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Rudraprayag Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Bhagirathi-Bhilangana Valley Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Tehri Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Uttarkashi Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Ravain Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Dehradun, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Haridwar Garhwal, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Munsyari Kumaon, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Pithoragarh Kumaon, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Almora Kumaon, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Nainital Kumaon, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Udham Singh Nagar Kumaon, Uttarakhand Tourism; Exclusive Features of Kumaon, Uttarakhand, Himalaya  Tourism; Exclusive Features of Kumaon, Uttarakhand , South Asia Tourism;