उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Monday, July 20, 2015

स्रुघ्न (कुणिंद कालीन राज्य ) में यातायात के साधन

Transport Facilities in Srughna - Kuninda Kingdom

                              स्रुघ्न  (कुणिंद कालीन  राज्य ) में यातायात  साधन

                        Ancient  History of Haridwar, History Bijnor,   Saharanpur History  Part  -  144                    
                                                हरिद्वार इतिहास ,  बिजनौर  इतिहास , सहारनपुर   इतिहास  -आदिकाल से सन 1947 तक-भाग -  144                   

                                               इतिहास विद्यार्थी ::: भीष्म कुकरेती 

       
   यातायात के मुख्य सदाहं पशु थे। राज्य के उबड़ खाबड़ मार्गों पर भेड़  बकरियों, बैलों , घोड़ों द्वारा लदान किया जाता था।
  भाभर जैसे चौरस स्थलों में जहां मार्ग थे बड़े रथ हांके जाते थे (महाभाष्य ).
छोटी यात्रा बैलगाड़ियों द्वारा व लम्बी यात्रा घोड़ागाड़ी याने रथ द्वारा होता था।
संपन , समृद्ध व्यक्ति रथों का उपयोग करते थे जबकि अन्य बैलगाड़ियों का।
रथों की छतों का अनवरं हेतु वस्त्र , चमड़ा या कंबल का प्रयोग होता था।
भाभर प्रदेश में रास्तों में बिश्राम या बिसौण का प्रबंध था।
नदी पर करने हेतु मसक (भस्त्रा ) का प्रयोग होता था। बड़ी नदियों में बांस के बजड़े , डूंडा , नैव प्रयोग में आती थीं। घड़े या तुम्बी की सहायता से भी नदी पार की जतिन थीं। पशुओं की पुनःस पकड़ कर भी नदी पर करने का रिवाज था।
*** सभी संदर्भ महाभाष्य से लिए गए हैं



Copyright@
 Bhishma Kukreti  Mumbai, India 19/7/2015 
   History of Haridwar, Bijnor, Saharanpur  to be continued Part  --145

 हरिद्वार,  बिजनौर , सहारनपुर का आदिकाल से सन 1947 तक इतिहास  to be continued -भाग -
145


      Transport Facilities in Srughna Ancient History of Kankhal, Haridwar, Uttarakhand ;  Transport Facilities in Srughna  Ancient History of Har ki Paidi Haridwar, Uttarakhand ;  Transport Facilities in Srughna  Ancient History of Jwalapur Haridwar, Uttarakhand ;  Transport Facilities in Srughna  Ancient  History of Telpura Haridwar, Uttarakhand  ;  Transport Facilities in Srughna  Ancient  History of Sakrauda Haridwar, Uttarakhand ;  Transport Facilities in Srughna  Ancient  History of Bhagwanpur Haridwar, Uttarakhand ;  Transport Facilities in Srughna  Ancient   History of Roorkee, Haridwar, Uttarakhand  Transport Facilities in Srughna;  Ancient  History of Jhabarera Haridwar, Uttarakhand  ;   Ancient History of Manglaur Haridwar, Uttarakhand ;  Transport Facilities in Srughna  Ancient  History of Laksar; Haridwar, Uttarakhand ;   Transport Facilities in Srughna   Ancient History of Sultanpur,  Haridwar, Uttarakhand ;  Transport Facilities in Srughna    Ancient  History of Pathri Haridwar, Uttarakhand ;  Transport Facilities in Srughna   Ancient History of Landhaur Haridwar, Uttarakhand ; Transport Facilities in Srughna  Ancient History of Bahdarabad, Uttarakhand ; Haridwar;    Transport Facilities in Srughna   History of Narsan Haridwar, Uttarakhand ;    Transport Facilities in Srughna Ancient History of Bijnor; Transport Facilities in Srughna   Ancient  History of Nazibabad Bijnor ;   Transport Facilities in Srughna  Ancient History of Saharanpur;   Transport Facilities in Srughna Ancient  History of Nakur , Saharanpur;  Transport Facilities in Srughna   Ancient   History of Deoband, Saharanpur;   Transport Facilities in Srughna   Ancient  History of Badhsharbaugh , Saharanpur;   Transport Facilities in Srughna Ancient Saharanpur History,   Transport Facilities in Srughna  Ancient Bijnor History; कनखल , हरिद्वार का इतिहास ; तेलपुरा , हरिद्वार का इतिहास ; सकरौदा ,  हरिद्वार का इतिहास ; भगवानपुर , हरिद्वार का इतिहास ;रुड़की ,हरिद्वार का इतिहास ; झाब्रेरा हरिद्वार का इतिहास ; मंगलौर हरिद्वार का इतिहास ;लक्सर हरिद्वार का इतिहास ;सुल्तानपुर ,हरिद्वार का इतिहास ;पाथरी , हरिद्वार का इतिहास ; बहदराबाद , हरिद्वार का इतिहास ; लंढौर , हरिद्वार का इतिहास ;बिजनौर इतिहास; नगीना ,  बिजनौर इतिहास; नजीबाबाद , नूरपुर , बिजनौर इतिहास;सहारनपुर इतिहास , Haridwar Itihas, Bijnor Itihas, Saharanpur Itihas