उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Sunday, April 21, 2013

अरे जरा जादा से जादा कन्ट्रोवर्सी लाओ!

गढ़वाली हास्य -व्यंग्य 
सौज सौज मा मजाक मसखरी 
हौंस,चबोड़,चखन्यौ   
सौज सौज मा गंभीर छ्वीं
                          अरे जरा जादा से जादा कन्ट्रोवर्सी लाओ!

                         चबोड़्या - चखन्यौर्या: भीष्म कुकरेती (s = आधी अ )
-हेलो ! यू क्या होणु च भै?
-सर , ठीक चलणु च , ट्वीटर पर दिनौ लाखों ट्वीट  होणा  छन।
-खन्नौ ठीक चलणु च लोग ट्वीट  करणा छन तो तीन थुडा कार ट्वीट पौपुलर।
-सर सबि छोटा -मोटा   समाचार पत्र अर सबि मीडिया मा मैचों बाराम लिख़णा छन। इख तलक कि गढ़वाळी साहित्य जै तैं गढ़वळि बि नि पढ़दन वीं भाषाम बि हमार  टूर्नामेंटो बारा मा लिख्याणु च।
-  हां त क्या ह्वाइ? लोग हमर टूर्नामेंट पसंद करणा छन त गढ़वाली लिख्वार बि सुचणों ह्वालु कि ये टूर्नामेंट का बारा मा लेखिक इ सै क्वी बंचनेर मीलल , क्वी गढवाली पाठक लेख त बांचल! इख्मा तयार क्या मिऴवाक (योगदान)?
-सर हरेक बडो नेता अचकाल टूर्नामेंट का खिलाड्यू तैं वधाई संदेस भेजणु च  अर हरेक खिलाड़ी से मिन्नत करणों च बल हे खिलाड़ी ! म्यार  दगड़ फोटो खिंचै दे। अर जादातर छ्वटु खिलाड़ी बि नवा नेता क दगड़ फोट खिंचाण से  पौपुलरिटी कम ह्वे जावो का डौरन कै बि नेता क दगड फोटो नि खिंचाणु च। सुणन मा त यि बि आयि कि सचिन तेंदुलकरन अपण विज्ञापन मैनेजरौ सलाह पर राहुल गांधी दगड़ फोटो नि खिंचाइ। विज्ञापन मैनेजरौ बुलण छौ कि नेताओं दगड फोटो खिंचाण से खिलाड्यु ब्रैंड इक्विटी (ब्रैंड कीमत ) मा भारी गिरावट ऐ जांद। सर  अर पर ....
- सर अर पर क्या?
- सर ! युसूफ पठान अर इरफ़ान पठानन  नरेंद्र मोदी दगड फोटो खिंचाणै शर्त रखी दे बल जु मोदी मुसलमानी टुपला पैरल तो ही द्वी भाइ मोदी दगड फोटो खैंचाला। सुणनम आयि बल मोदी मुसलमानी टोपी पैरणो तयार च।
-अरे नेताओं छवि इथगा खराब ह्वे गे कि नेताओं तैं छवि उच्चीकरण अर छवि सुधारणो बान खिलाड्यु जरूरत पोड़नि च। पण मि पुछणु छौं बल जु बड़ा बड़ा नेता खिलाड्यु दगड़ फोटो खिंचाणो पुठ्याजोर लगाणा छन त इख्मा तेरि पब्लिक रिलेसन कम्पनी क्या योगदान च ?
-सर अबि अबि महेंद्र  सिंग धोनी अर  सुरेश रैनान ट्वीट कार बल सर रवीन्द्र -जडेजा .
--तो   इखमा तेरी कम्पनी को क्या कंट्रीब्यूसन च भै?
- सर ! भौत सा  क्रिकेट विचारकों अर  संसलेषकों विचार च बल इन्डियन प्रीमियर लीग को खेल देखिक लगणु च बल वीरेन्द्र सहवाग तै टेस्ट से रिटायर हूण पोडल।
- हे तू पब्लिक रिलेसन कम्पनी मालिक छे कि बैंकॉक पटाया को मसाजी ?
-सर हम भौत कोशिस करणा छंवां कि  इन्डियन प्रीमियर लीग खेल माँ कुछ विवाद ह्वाओ, कुछ प्रतिवाद ह्वावो .. हां 
- तो अबि तलक इन्डियन प्रीमियर लीग खेल बुरी चर्चा , विवाद मा किलै नि आयि?
-सर हमन कोशिस त कौरि छे अर ससांत तै सलाह भिजवै छे कि हरभजन  काण्ड तैं दुबारो अग्वाड़ी लावो कि जां से आई पी ऐल खेलों मा लोगुं तैं विवादों चटनी , कैच अप मीलो 
-पण ह्वाइ क्या च तुमारि चटनी मा त कीड़ पोड़ी गेन ना ! 
-सर! अब  दिन गौतम गम्भीर अर  विराट कोहली मा बोल बचन बि ह्वै छौ ..
-हाँ पण वां से बि लोगुं तै चटकारा नि लगिन ना?
सर !  हम त कोशिसम लग्यां छां कि इन्डियन प्रीमियर लीग खेल विवादों का घ्यारा मा आवो।
-हां इन्डियन प्रीमियर लीग खेल को मतलब च लोगुं मनोरंजन ना कि खेल तो ये कहल माँ जब तलक विवादों को तड़का नि ह्वालो तो इन्डियन प्रीमियर लीग तैं कु याद कारल? कंट्रोवर्सी इज द होली मदर ऑफ आई पी ऐल  
-जी सर- सूण अब द्वी चार दिनुम समाचार आण चयेंद कि कुछ खिलाड़ी चीयर गर्लों दगड़ फंसी गेन 
-जी खिलाड़ी फंस जाला 
-द्वी चार दिनों मा खबर आण चयेंद कि खिलाड्यून शराब का  मा कै होटलम दंगा फसाद कार 
-समाचार ऐ जाला 
-न्यूज आण चयेंद कि कुछ खिलाड़ी चरस गांजा पींद पकडे गेन 
-जी खबर ऐ जालि 
-खबर हूण चयेंद कि कुछ खिलाड़ी अर अम्पायर मैच फ़िक्षिंग मा लिप्त छन।
-जी सर समाचार ऐ जाला 
- अर अबि तलक क्वी मैच फिक्सर नि पकडे गेन किलै?
-सर अचकाल देस मा बलात्कार का जघन्य केस इथगा हूणा छन कि पुलिस वाळ जन आन्दोलन दबाण इ मा व्यस्त च तो मैच फिक्सिंग का केसों मा पुलिस तै क्वी इंटरेस्ट नी च 
-  अर अबि तलक कै शासि थरूर मंत्री न इस्तीफा बि नि दे? ना ही प्रफुल पटेल जन मंत्री की बेटिन एयर इंडिया को जहाज रुक्वाइ?
-सर अचकाल नेता बिंडी चलाक ह्वे गेन-
- मी कुछ नि जाणदो  जु आई पी ऐल कु हैंक सालो ठेका चयाणु च तो ये साल आइ पी ऐल का विवाद लोगुं समणी आण चयेंदन जां से जादा जादा से लोग आई पी ऐल से जुड़िन  
-जी हमारी कम्पनी कोशिस कारलि कि जथगा बि ह्वावो आई पी ऐल विवादों घ्यारा मा आवो 
-दैट्स गुड स्पिरिट। चलो दु दु स्मगल्ड दारु पैग ह्वे जावन। 
                
  Copyright @ Bhishma Kukreti  21 /4/2013             
(लेख सर्वथा काल्पनिक  है )