उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Monday, August 17, 2015

बड़ बामणु उज्याड़खवा गोर बि बड़ै लैक हूंदन !

 (  गढ़वाली लघुकथा श्रृंखला -1, Garhwali Very Short Stories -1 ) 
                         कथाकार -- भीष्म कुकरेती

सीताराम जखमोला   - अरे अरे सि द्याखदि पलि सारी सत्या कुकरेतिक गोर उज्याड़ खाणा छन
जग्गु कुकरेती -दिन दुफरा मा सत्या कुकरेतिक निगुसैंका गोर उज्याड़ खाणा छन। ये सत्या कुकरेती का गोर अबि  चिलंग  जोग ह्वे जैन , बाग़ जोग ह्वे जैन, तड़म लग जैन । आज सत्या कुकरेतीक बुबान  खूब गाळी खाण।  मजा आलो।
बस्तीराम जखमोला  - अबै सि सत्या कुकरेतिक गोर नि छन।  दिखणि नि छे लाल गौड़ी ? सि गोर सत्या बहुगुणा गुरजी का छन।
जग्गु कुकरेती  -ये मेरि  ब्वे ! चलो रै , सत्या गुरुजिक गोर बौड़ैक लयाँदां।  निथर बेकार मा सत्या गुरजीक बुबाजीन गाळी खाण। 

17 /8 /2015 Copyright @ Bhishma Kukreti ,
Garhwali Stories; Very Short Garhwali stories from Garhwal;