उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Sunday, January 8, 2012

सौ साल का जवान कुंवर सिंह नेगी "कर्मठ'


गढवाळ का नामी लोक अर ज़ात (मलारी जुग बिटेन अज्युं तलक ) - फड़की -54
गढ़वाल के विभूतियाँ व समाज (मलारी युग से वर्तमान तक) - भाग - 54
Great Garhwali Personalities (Malari era to till date ) Part -54
                Bhishm Kukreti
               गढ़वाळ का नामी-गिरामी पत्रकार/संपादक -2
                     Great Jounalists/Editors of Garhwal - 2
सौ साल का जवान कुंवर सिंह नेगी "कर्मठ' : गढ़वाळ अर गढ़वाळी प्रति समर्पित जुझारू व्यक्तित्व
              सौ साल का कुंवर सिंह नेगी क स्वास्थ्य, प्रतिभा अर व्यक्तित्व बिलखणि च. कर्मठ जी एक स्वार्थहीन सामाजिक कार्यकर्ता.
गढवाळी साहित्य का प्रकाशक , लगन शील लेखक अर जीवट का संपादक छन. अच्काल इन व्यक्तित्व को सर्वथा
अकाळ पड्यूँ च .
              कुंवर सिंह कर्मठ को जनम सन उन्नीस सौ बारा मा पांग गौं , तहसील पौड़ी मा ह्व़े छौ.
पैल पैल १९३६ मा पैमैस क टैम पर पेपर कु ठेका लीण से कुंवर सिंह उर्फ़ 'कर्मठ' जी 'हिल पेपर कोंट्रेकटर ' का
नाम से प्रसिद्ध ह्वेन. कुछ समौ परांत कर्मठ जी न कालेश्वर प्रेस की स्थापना कार जख बिटेन भक्त दर्शन जी
अर भैरव दत्त धुलिया जे क संपादकत्व मा 'कर्मभूमि' साप्ताहिक छ्पदो थौ.
भक्त दर्शन जी अर धुलिया जीक जेल जाण मा 'कर्मभूमि' क संपादन को काम कर्मठ जी न सम्बाळ.
                   पैथर कुंवर सिंग नेगी जी कालेश्वर प्रेस तैं कोटद्वार लै गेन. सनै सनै कौरिक कालेश्वर प्रेस
कोटद्वार मा छपण वाळ पत्र-पत्रिकाओं जन कि कर्मभूमि, सत्यपथ, हितैषी , क्षत्रिय वीर,
देव भूमि, हिमालय की ललकार, अर 'आवाज' क मुद्रक बौणि गे . लैंसडौन अर श्रीनगर मा बि कालेश्वर प्रेस के
ब्रांच रैन .
                   सन १९७६ मा कर्मठ जीन 'गढ़ गौरव मासिक' पत्रिका क प्रकाशन अर सपादन शुरू का. 'गढ़ गौरव '
पत्रिका सन १९७६ बिटेन आज तक छपेणि रौंदी .
            कर्मठ जी न गढवाली कथामाला , जैलाल वर्मा क 'गढवाली शब्दकोश, वेताल पचीसी , अर
अदित्य्राम दुधपूड़ी क भौत सी किताब क आलावा ग्ध्वालियों का स्वतंत्रता संग्राम में योगदान,
डा पीताम्बर दत्त बडथ्वाळ क साहित्यिक जीवनी जन किताबुं प्रकाशन कार .
                      भौत सी संस्थाओं न सौ साल कु जवान कुंवर सिंह नेगी क सम्मान कार.
                कुंवर सिंह नेगी 'कर्मठ' जी कोटद्वार मा रौंदन .
Great Jounalists/Editors of Garhwal to be continued ....
Copyright@ Bhishm Kukreti