उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Wednesday, May 10, 2017

आवा आवा चला आवा चला गों की तिर्फ़

--  आवा आवा चला आवा चला गों की तिर्फ़ 
गौं हमारा गौं नि छन गौं छन हमारा तीर्थ

तिबरी डडेली  छजा देली , हथ जोड़ी आस माँ रांदी
ओबरू पांडू मोर सांगड़ गाणीयू की लगुली बटांद
माटां गारा का थुपडा नि छन, पितरों को पस्यो संदिष्ट 

उर्खेला चौक का तीर उदास उदास च 
न छण मणदी चूडी च न ब्यओनु आसपास च 
बरसूँ बटे गंजेली की , छिव बत कानु न नि सुणई

छल छलंद पान्णी बोलद बोग्न्णु छो मी दिन रात
सेरा सटेडी प्याजे  सगोड़ी ,बंजें गैनी बिना बात
आण वाली पीढ़ी पूछली  कख छन, तुम्हरा भीत्र
शुक्रिया,
नीता कुकरेती