उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Monday, April 14, 2014

चुनावमा गढ़वाळम ऊँट कै हौड़ (करवट) बैठल ???

हंसोड्या , चुनगेर ,चबोड़्या -चखन्यौर्या -भीष्म कुकरेती        

(s =आधी अ  = अ , क , का , की ,  आदि )   

 अचकाल 2014 का लोकसभा चुनाव का वास्ता ओपिनियन पोल वाळ , अखबारुं बड़ा बड़ा नामी राजनैतिक विश्लेषक , टीवी मा टिप्पणी दीण वाळ टिप्पणीकार रोज फोन करणा रौंदन ," भीषम जी !  बताना पौड़ी गढ़वाल में ऊँट किस करवट बैठेगा ?" या "कुकरेती जी गढ़वाल में कॉंग्रेस का ऊँट किस करवट बैठने वाला है ?"
पैल उन त मि मुंबई मा बैठिक बतै दींदु छौ कि कॉंग्रेस का ऊँट कना करवट ल्यालु अर भाजपा का ऊँट कै छ्वाड़ करवट ले सकुद।  पण जब बिटेन भुवन चन्द्र खंडूरी चुनाव हार तो मि समजी ग्यों कि इख मुंबई से पता लगाण कठण च कि भाजपा कु ऊँट कै हौड़ बैठल अर कॉंग्रेस कु ऊँट कना लमलेट ह्वालु।  फिर अब त एक नै ऊँट याने आप पार्टीक ऊँट बि ऐ ग्यायि तो ऊँटुं हौड़ (करवट ) लीणो ढंग-ढाळ  इ बदल गे।  इन मा मि ग्राउंड रियलिटी  जाणनो बान गढ़वाल चली ग्यों। 
पैल मि  गढ़वाळ ग्यों तो कॉंग्रेस का अर भाजपा द्वी पार्टयूं ऊँट मिल गेन।   द्वी ऊंट   शंड -मुशंड हाथी अर सांड जन वजनदार छा।    कॉंग्रेसी ऊँट पिछ्ला दस सालुं से केंद्रीय चारागाह मा दिन रात चारा खाणु छौ त वैन म्वाट हूणी छौ अर भाजपा का ऊँट पिछ्ला पांच सालुं से राज्य चारागाह मा बैठिक चरबी बढाणु छौ तो वी बि मस्त सांड जन म्वाट हुयुं छौ।
 द्वी ऊँट शंड -मुशंड हाथी जन पड़्यां क्या फकोरिक सियां छा।
कॉंग्रेसी ऊँट अजीब सि हालात मा सियुं छौ।  साफ़ छौ कि यु कॉंग्रेसी ऊँट किम कर्तव्य ? की सोच का कारण सियुं छौ। पता इ नि लगणु छौ कि कॉंग्रेसी ऊँट कै करवट मा सियुं छौ अर अब कै हौड़ फरकल। 
मीन कॉंग्रेसी ऊँट तैं बिजाळ अर पूछ ," अरे कॉंग्रेसी ऊँट ! चुनाव बगत च अर तु सियुं छे ?"
कॉंग्रेसी ऊँट को जबाब छौ ," क्या करण ? सतपाल महाराज से उम्मीद छे कि कॉंग्रेस भाजपा तैं टफ फाइट द्याला अर अल्लाह -हो -अकबर का चेला जय श्री राम का चोला पैरण मिसे जावो तो कॉंग्रेस की हार हूणी च त इन मा मीन सीण नी च त क्या करण ?"
मीन ब्वाल ," मतबल तीन सोचि याल कि कॉंग्रेस की हार पक्की च। "
कॉंग्रेसी ऊँट कु उत्तर छौ ," मीन क्या सोचि याल।  राहुल बाबान बि मानि याल कि हार तो पक्की च।  इन मा जब मीन मन मा हार मानि याल तो किलै फ़ोकट मा कुछ करे जावो। किस किसको रोएँ , आराम बड़ी चीज है , मुंह ढक के सोइये।  अर अबि तलक निर्णय बि नि ह्वे कि कॉंग्रेसी उम्मेदवार कु जि छन "
मीन कॉंग्रेसी ऊँट तैं पूछ ," त इन त बता कि तू किस करवट बैठेगा ?"
कॉंग्रेसी ऊँटन ब्वाल ," कुछ समज मा नी आणु च कि जब हार पक्की हो तो कना  करवट बदलण। "
मीन सियुं शंड -मुशंड भाजपाई ऊँट तैं बिजाळ अर प्रश्न कार ," ये भै भाजपाई ऊँट तू किलै फकोरिक , बेखबर , निश्चिन्त सियुं छे ?"
भाजपाई ऊँटौ उत्तर छौ ," जब मोदी लहर च , जब ओपिनियन पोल बुलणा छन कि हमन हंड्रेड पर्सेंट जितण इ च त मिन  सुखानंद मा नींद नि लीण त क्या करण ? जब जीत पक्की हो तो मेहनत करण बेवकूफी च। "
मीन ब्वाल ," आडवाणी जीन बोली बि च कि कखि भाजपा ओवर कॉन्फिडेंस मा पैथर नि रै जावु। "
भाजपाई ऊटन जबाब दे ," बुड्याक त दिमाग खराब हुयुं च।  फ्रस्ट्रेसन मा कुछ बि बुलणु रौंद , बखणु रौंद।  जा कै हैंक पार्टीक ऊँट मा जावो।  मि तैं डिस्टर्ब नि कारो।  मि तैं सीण द्या।"
मीन पूछ ,"  हे भाजपाई ऊँट इन त बता कि तू किस करवट बैठेने वाला है ?"
भाजपाई ऊँट को जबाब छौ ," मी त सत्ता पक्ष की दिसा मा बैठण वाळ छौ। "
इथगा मा रेडियो से समाचार आइ ," कॉंग्रेस ने टिहरी चुनाव क्षेत्र से साकेत बहुगुणा , पौड़ी क्षेत्र से हड़क सिंग रावत और हरिद्वार क्षेत्र से रेणुका रावत को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। "
द्वी ऊँट चड़म खड़ ह्वे गेन अर भागण बिसे गेन।
मीन पूछ ," अरे द्वी किलै भागणा छंवां ?"
भाजपा ऊँट कु जबाब छौ ," अब  मि तैं हार कु डौर सताणु च त मि जनता की नबज टटोळणो  जाणु छौं कि जनता कु ऊँट कै हौड़ फरकल धौं (किस करवट बैठेगा )."
कॉंग्रेसी ऊँट कु उत्तर छौ ," मि तै इन लगणु च की हम बि जीत सकदा।  मी बि वोटरूं मंशा जाणनो  जनता का बीच  जाणु छौं कि वोटरुं  ऊँट कै हौड़ फरकल धौं (किस करवट बैठेगा )."
द्वी ऊँट भाजि गेन। 
मीन द्याख कि तीन सुक्यां ऊँट कड़कड़ा ह्वेक खड़ा छा।  यूं ऊँटुं पर ना सान छे ना बाच छे।  बस यि खड़ा छा। 
मीन एक तैं पूछ बल यी कैक ऊँट छन अर इन किलै खड़ा छन ?
वैक जबाब छौ ,"यी असल मा काठक नकली ऊँट छन। "
मीन पूछ ," कैक छन यी नकली ऊँट ?"
वैक उत्तर छौ ," एक ऊँट उत्तराखंड क्रांति दल (ऐरी ग्रुप ), एक ऊंट उक्रांद (पंवार ग्रुप ) अर तिसरु ऊँट उक्रांद (दिवाकर भट्ट ग्रुप ) का नकली ऊंट छन। "
मीन पूछ ," अर आम आदमी  पार्टीक ऊँट कख च ?"
वैन ब्वाल ," आप पार्टीम ऊँट नी च।  आप पार्टीम मुसक्या चोर याने चौंर्या स्याळ च। "
 पाठको मि तैं त पता नि चौल कि गढ़वाळम चुनावी ऊँट कै हौड़ (करवट ) फरकल।  क्या आप बतै सकदा कि ऊँट किस करवट बैठेगा ? 

Copyright@  Bhishma Kukreti  13 /4/2014 

*कथा , स्थान व नाम काल्पनिक हैं।  
[गढ़वाली हास्य -व्यंग्य, सौज सौज मा मजाक  से, हौंस,चबोड़,चखन्यौ, सौज सौज मा गंभीर चर्चा ,छ्वीं;- जसपुर निवासी  द्वारा  जाती असहिष्णुता सम्बंधी गढ़वाली हास्य व्यंग्य; ढांगू वालेद्वारा   पृथक वादी  मानसिकता सम्बन्धी गढ़वाली हास्य व्यंग्य;गंगासलाण  वाले द्वारा   भ्रष्टाचार, अनाचार, अत्याचार पर गढ़वाली हास्य व्यंग्य; लैंसडाउन तहसील वाले द्वारा   धर्म सम्बन्धी गढ़वाली हास्य व्यंग्य;पौड़ी गढ़वाल वाले द्वारा  वर्ग संघर्ष सम्बंधी गढ़वाली हास्य व्यंग्य; उत्तराखंडी  द्वारा  पर्यावरण संबंधी गढ़वाली हास्य व्यंग्य;मध्य हिमालयी लेखक द्वारा  विकास संबंधी गढ़वाली हास्य व्यंग्य;उत्तरभारतीय लेखक द्वारा  पलायन सम्बंधी गढ़वाली हास्य व्यंग्य; मुंबई प्रवासी लेखक द्वारा  सांस्कृतिक विषयों पर गढ़वाली हास्य व्यंग्य; महाराष्ट्रीय प्रवासी लेखकद्वारा  सरकारी प्रशासन संबंधी गढ़वाली हास्य व्यंग्य; भारतीय लेखक द्वारा  राजनीति विषयक गढ़वाली हास्य व्यंग्य; सांस्कृतिक मुल्य ह्रास पर व्यंग्य , गरीबी समस्या पर व्यंग्य, आम आदमी की परेशानी विषय के व्यंग्य, जातीय  भेदभाव विषयक गढ़वाली हास्य व्यंग्य; एशियाई लेखक द्वारा सामाजिक  बिडम्बनाओं, पर्यावरण विषयों   पर  गढ़वाली हास्य व्यंग्य, राजनीति में परिवार वाद -वंशवाद   पर गढ़वाली हास्य व्यंग्य; ग्रामीण सिंचाई   विषयक  गढ़वाली हास्य व्यंग्य, विज्ञान की अवहेलना संबंधी गढ़वाली हास्य व्यंग्य  ; ढोंगी धर्म निरपरेक्ष राजनेताओं पर आक्षेप , व्यंग्य , अन्धविश्वास  पर चोट करते गढ़वाली हास्य व्यंग्य, राजनेताओं द्वारा अभद्र गाली पर हास्य -व्यंग्य    श्रृंखला जारी