उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Monday, June 14, 2010

सौलै शिकार (सौलू, साही ) ( Mutton Curry of Porcupine)

Himalayan Cuisines, Cuisines of Uttarakhand, Dishes from Garhwal and Kumaun, Recipes of Garhwal and Kumaun
सौलै शिकार (सौलू, साही ) ( Mutton Curry of Porcupine)
Bhishma Kukreti
सौलु (साही ) मुसू क परिवार कु एक जानवर च . २५-३० इंच लम्बो अर लम्बी पूंछ वल़ू जानवर पर चार पाँच इंच लंबो काण्ड (Spikes)
हुन्दन . सौलू भौत धीरे हिटदू . सौलू मुसदुंळ (Burrow) पुटुक रौंद अर रात्यूं कुणि ही भैर आन्द . सौलू ग्युं जौ आदि की फसल खांद इले सौलू तै भगाणे कत्या ही ब्युंत/ तरीका करे जान्दन .
सौलू की शिकार बि खये जांद . सौलू तैं मारण क वास्ता मुसदुंळ भितर अग्यो करे जांद जां से धुंवा भितर जावू अर सौलू भैर ऐई जावू. जन्नी सौलू भैर आन्दु वै तै लट्ठलुं पीतिक मारे जांद . ध्यान धरे जांद कि सौलू क काण्ड शरीर पर नि आवन .
मरयूं सौलू क काण्ड गाडिक फिर सौल तैं भड़ये जांद अर फिर लुतकी , अंदड़ पिंदड़ गाडिक (यीं प्रोसेस तैं सुधारण बुले जांद ) फिर शिकार तैं छौंकिक, मैणु मसला दगड उसेक उन्नी बणये जांद जन बखरै शिकार/शुरवा बणये जांद . हाँ ! सौलू क शिकार कुंगल़ी (Very Tender) , होंद त जादा नि पकये जांद
जौंक सौलै शिकार खयीं च ऊ बुल्दन बल याँ से सवादी शिकार हून्दी ई नी च

Copyright @ Bhishma Kukreti, Mumbai, India, 2010