उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Tuesday, June 8, 2010

खीरा (कद्दू ) क कुछ खास व्यंजन

Kumauni Cuisines , Kumauni Food, Garhwali Vyanjan, Uttrakhand ka Khan Pan
गढ़वाली व्यंजन , कुमओनी व्यंजन , गढ़वाली खां पान, कुमाउनी खाना
खीरा (कद्दू ) क कुछ खास व्यंजन
भीष्म कुकरेती
पुराणो गढ़वाल कुमाओं नेपाल मा खीरा (कद्दू ) क बड़ो मातम (महत्व) छौ . बरसात उपरान्त स्ब्ज्युं मा खीरा की बड़ी मान्यता छे किलैकी ठड़यूँ परांत भुज्ज्युन को अकाळ सि इ रौंद छौ
खीरा क पत्ता औण से ही खीरा की भुज्जी शुरू ह्व़े जांद अर पक्युं खीरा क दाण से कतना इ प्रकार की भुज्जी बणद
खीरा पातs (टुखल, खिर्बुज ) भुजी
खीरा पतों से आप कथगा ही भुजी बणे सक्दवां
१- हरी भुजी :जन मूल पलिंगु (पलक) की भुज्जी
२- रल़ो मिसों ( मिश्रित ) भुज्जी : खीरा क तुखुल या पतों तैं मूल़ा , पिंडालूँ, मर्सों पात दगड़ काटिक भुज्जी बणद
३- मुला, पिंडालू , खीरा क कच दाणों दगड मिलैक बि भुज्जी बणद, भिन्डी क द्वी चार फुळड़ काटो अर पतों मिश्रित सब्जी सवादी होंद
४- कपिलू/धपड़ी : काच मुंगरी पीसिक , मुन्गर्युं ऑटो , कौणी, झंगवर आदि को आलण (Curry making medium) की सहायता से धपड़ी , कपिलू /क्फ्लू बणद
५- काचो गह्थुं को मस्यट (Dough made by soaked and grinded Gahth) की सहायता से फाणु बणये जांद
खीरा क दाणु साग भुज्जी
काचो/ पक्युं खीरा दाणु से भौत सि भुज्जी बणदन
१- काचो कद्दू की आम सूखी भुज्जी पण मेथी को छौंक जरुरी च ' कथि जादा पाणी मिलैक प्न्द्यरु साग बणान्दन
२- मुला , पिंडालू क दगड़ भुज्जी बणये जांद .
इन्नी पक्युं खीरा दाणु से बि वाई भुज्जी बणद ज्वा काचो दाणु से बणद
३- रेलू/रायता :खीरा तैं उबाळीक भुरता बणेक (Crushed the boiled vegetable by hand or so ) वै मा छांछ या दही मिलैक फिर पकैक रेलू बणये जांद . खीरा तैं पकैक ठंडो भुरता मा दही मिलैक रायता बणदू
४- खीरा क म्यालों क गुदुल तैं ठुगारिक खये जांद

Copyright Bhishm Kukretim Mumbai, June 2010