उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Thursday, June 3, 2010

गीन्ठी एक पौष्टिक व्यंजन

Kumauni Garhwali Vyanjan; Garhwali Kumauni Cuisines; Kumaoni Garhwali Recipes; Kumauni Garhwali Food
गीन्ठी एक पौष्टिक व्यंजन
भीष्म कुकरेती
गीन्ठी एक जमीनाऊ तौळ हूण (गीन्ठी एक पेड़ भी हुन्द पण ऊ अलग गीन्ठी होंद ) वल़ू कंद को नाम छ अर भैर एकु बेल हुन्द अर पत्ता बेल तैडू जन ही होंद . यू जन्ग्लूं मा हुन्द अर बरसात का बाद ही बेल तैं पकड़ी क गीन्ठी क दाण खुदाई से खुदे जान्दन
गीन्ठी क दाण गोळ अर भूरिण रंग क होंदन . गीन्ठी क दाणु तैं उसए / उबाल़े जान्द अर फिर भैराक छुक्यल गाडीक काटिक खूब धुएं जांद अर तब खाए जान्द . लूण मर्च का दगड बि खाए जांद अर बगैर लूण मर्च क सलाद जन बि खाए जान्द. कुछ लोग आलू जन भुज्जी बि बणाइ लेंदन. चूँकि गीन्ठी भौत ही कड़ो हुन्द त सबी गीन्ठी तै पसंद नि करदन पण पौष्टिक सलाद मा गीन्ठी अब्बल कंद च

Copyright@ Bhishma Kukreti, Mumbai, India 3rd May 2010