उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Tuesday, December 30, 2014

उत्तराखंडी मुख्यमंत्र्युं ड्रेस सेन्स या झुल्ला पैरणौ सलीका

 विपणन विशेषज्ञ ::: भीष्म कुकरेती 
  अजकाल मोदी का विरोधी मार्केटिंग तैं खलनायक बताण मा आपस मा कम्पीटीसन करणा छन।  जब कि राजनीतिक या कनि बि व्यक्तिगत छविकरण  कुछ नी च पर्सनल ब्रैंडिंग च , पर्सनल मार्केटिंग च , व्यक्तिगत विपणन च। व्यक्तिगत छविकरण मा 
बाचन - याने तुम क्या बुल्दां , कखम बुल्दां अर क्या बुल्दां 
कर्म - कर्म यानी मनिखौ  काम 
यी सब  छवि बणान्दन।  ड्रेसिंग या झुल्ला पैरणो सलीका बि  ब्रैंडिंग का वास्ता महत्वपूर्ण च।  तबि त समुद्र मंथन मा स्लीकादार पीतांबरी ड्रेस पैरण वाळ विष्णु जी तैं लक्ष्मी मील अर रंगुड़ मा रतबळयां (लतपत ) शिवजी तैं विष मील।  सब कपड़ा पैरणो कमाल तब बि छौ। 
पॉलिटिकल ब्रैंडिंग मा ड्रेस सेन्स महत्वपूर्ण अंग च। 
जख तक उत्तराखंड बिटेन   हुयां मुख्यमंत्र्युं सवाल च पाठक बि जाणदा इ होला कि कैक ड्रेस सेन्स कन छौ। 
सबसे पैल नाम आंद भारत रत्न स्व गोविन्द बल्ल्भ पंत कु नाम।  पंत जी अपण समौ का हिसाब से कोट अर धोती पैरदा छा अर सीधा -साधा छवि पैदा करण वाळ ड्रेस पैरदा छा। पर राजनीति मा पंत जी तैं सीदा सादा पर घाग नेता (डिप्लोमेसी मा ) अवश्य माने जांद छौ। 
  फिर आंद नाम स्व हेमवती नंदन बहुगुणा कु।  कुछ बि ब्वालो बहुगुणा जी बड़ा हि तिकड़म बाज छा।  ड्रेस का मामला मा बहुगुणा जी नेहरू ड्रेस का करीब छा।  लम्बो कोट (अधिकतर भूरो ) अर सफेद रेबदार सुलार मा गांधी टोपी बहुगुणा जीक ड्रेस छे।  बहुगुणा जी ड्रेस से क्वी छाप छुडन मा विश्वास नि छौ किन्तु उखाड़ -पछाड़ मा आज तक अपणा डा निशंक बहुगुणा जीक आस -पास बि नि आंदन। 
उत्तर प्रदेश मा इ नारयण दत्त तिवाड़ी बि मुख्यमंत्री ह्वेन अर फिर उत्तराखंड का बि मुख्यमंत्री बणिन।  ड्रेस का मामला मा तिवाड़ी जी बि नेहरू जीक ड्रेस का प्रशंसक छन।  लम्बो कोट , सफेद रेबदार सुलार। तिवाड़ी जी पर या ड्रेस फबद बि छौ।  अवश्य ही तिवाड़ी जी आकर्षक ड्रेस मा विश्वास करदन। जु नौन्युं प्रेमी ह्वालो वु अपण ड्रेस पर अवश्य ही ध्यान द्याल।  उत्तराखंड का सबि मुख्यमंत्र्युं मा वुद्धिजीवी जन भाषण दीण मा तिवाड़ी जीक नाम आंद , तिवाड़ी जी कुमाऊं का गांवुं मा भाषण दींद दैं बर्नाड शा का उदाहरण बि दींदा छा। 
उत्तराखंड का सबसे पैल मुख्यमंत्री नित्या नन्द स्वामी बि लम्बो कोट , रेबदार सुलार , काळो जुत्त पैरदा छा। हुस्यार मनिख छा। मीन स्वामी जी तैं टोपी मा कबि नि द्याख। 
उत्तराखंड का दुसर मुख्यमंत्री भगत सिंग कोशियारी जी ड्रेस सेन्स मा क्वी ख़ास नि छन।  कोट , कुर्ता अर धोती, कंधा मा गर्म्युं मा बि पंखी, म्वाट टुपला  कोशियारी जी तैं ग्राम प्रेमी नेता की छवि दीन्दी।किन्तु कोशियारी जी तैं ड्रेस से क्वी फायदा नि हूंद। 
उत्तराखंड का चौथ या तिसर मुख्यमंत्री मेजर जनरल ( रि ) भुवन चन्द्र खंडूरी की क्वी एक ड्रेस नि बुले सक्यांद।  अर ड्रेस से ब्रैंडिंग का मामला मा खंडूरी जी क क्वी छवि  पैदा बि नि हूंद ना ही खंडूरी जीन कबि स्वाच होलु कि ड्रेस बि पर्सनल ब्रैंडिंग का वास्ता आवश्यक च। 
उत्तराखंड का मुख्यमंत्र्युं मादे सबसे अधिक ड्रेस पर ध्यान दीण वाळ मुख्यमंत्री छन अपणा डा रमेश पोखरियाल 'निशंक '। रंगीन फत्वी  , कुर्ता , रेबदार सुलार, सलीकादार  बाळ डा निशंक जी पर फबत छन।  डा निशंक ड्रेसिंग पर उथगा बरीकी से बरोबर  ध्यान दींदन जथगा  कि चुनाव मा अपण इ पार्टी का कंडिडेट का बेड़ागर्क करण मा ध्यान दींदन। 
हरीश रावत जी ड्रेस का मामला मा साधारण छन याने उंक ड्रेस हरीश रावत तैं एक आम मनिख का नजदीक लिजांदी। जन वु बुलण मा आम आदिम लगदन तनि उंक पहनावा बि हरीश जी तैं आम मनिख की छवि प्रदान करद। 
तो  ड्रेस सेन्स का मामला मा सबसे पैल डा निशंक कु नंबर च अर फिर नारायण दत्त तिवाड़ी जी दुसर नंबर पर छन। 
अब आपन पुछण कि विजय बहुगुणा जी की ड्रेस सेन्स कन च ? तो म्यार बुलण च बल इम्पोर्टेड चीफ मिनिस्टर अर बंगाली बहुगुणा का बारा मा लिखणम  मि समय की बर्बादी समजदु । ड्रेस से बहुगुणा जीक क्वी छवि नि बणदि अर उन  बि मोळक लड्डु पर सोना चांदी का वर्क लगाण से मोळक लड्डू मोतीचूर का लड्डू नि बण सकदन। 



24/12/14 ,  Bhishma Kukreti , Mumbai India