उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Wednesday, April 11, 2012

जनान्युं सफलता पैथर जनानी

नि बोलि जाण ?
 
                         जनान्युं सफलता पैथर जनानी
 
                                          भीष्म कुकरेती
पुरण जमानो मा इन बुले जांद थौ बल सफल मरदौ पैथर एक जनानी क हथ
होंद ज्वा कळु /त्वाता तरां बुलणि रौंद , "तू गलत छे, तू गलत छे, ह्यां ! तु गलत छे"
अच्काल बि जनान्युं सफलता का पैथर जनानी छन अर वो जनानी सफल जन्यान्युं खुण बुलणा रौंदन,"
तू सै/सही छे, सचमुच मा तू सही छे."
अच्काल शोभा डे, एकता कपूर, शहनाज हुसैन, ललिता गुप्ते, रीतू नंदा, आद्युं बात सफल जाणान्यूँ मा होंदी.
उत्तराखंड मा बि विजया बडथ्वाल, इंदिरा हृदेश की सफलता कि छ्वीं लगणा इ रौंदन.
अब द्याखो ना इंदिरा गाँधी क बात त सबि जाण दन कि इंदिरा गांधी कथगा सफल जनानी छे. फिर सोनिया गांधी, जय ललिता,
शीला दीक्षित, ममता अर मायवती क गणत बि सफल जाणान्यूँ मा होंद.
दिखे जाओ त य़ी सौब जनानी सफल ह्वेन त यून्का पैथर जनानी इ रै होला या जनानी इ ह्वाला.
इंदिरा गांधी सफल ह्व़े त तेजी बच्चन अर शीला दीक्षित इंदिरा गांधी क पैथर रैन.तेजी बच्चन अर शीला दीक्षित
इंदिरा गांधी क देख भाळ नि करदा त इंदिरा गांधी त ड़्यारक झमेलों मा इ पोड़ी रैंदी .
सोनिया गांधी क पैथर शीला दीक्षित छे त आज सोनिया गांधी इथगा बडी मनिख्याण च.
आज शीला दीक्षित का पैथर सोनिया गांधी च त शीला दीक्षित सफल मुख्य मंत्री माने जांद. मजाल च क्वी बि कोंग्रेसी
शीला दीक्षितऔ तरफ आँख घुर्याओ धौं. आँखी फूटी जाली हाँ !.
जयललिता क पैथर त शशिकला छै इ च.
तुमन बि द्याखी होला कि सफल जनानी क मैशु /पति कखिम बि अपण परिचय कम दीन्दो अपण कज्याणि क
परिचय जादा दीन्दो पण फिर बि जब घौर आंदो त बेड रूम का बेड शीट्स क बारा मा अपण सफल कज्याणि कुण बोली दींदु,"
डियर , बेड शीट्स गुंड मुंड हुयाँ छन /रिंकल्स छन. यो त ठीक नी च."
अब इखमी च सफल जनानी क पैथर जनानी जरोरात. जथगा बि सफल जनानी छन चाहे मृणाल पांडे इ ह्वाओ या विजया बडथ्वाल
ह्वाओ जब तलक यूंक ड्यारम क्वी काम कि जनानी नि ह्वाओ क्या इ जनानी सफल ह्व़े सकदन?
मृणाल पांडे हिन्दुस्तान टाइम्स मा सम्पादक छे त जो वींक ड़्यारम जनानी नि होंद त क्या मृणाल पांडे सफल साहित्कार अर सम्पादक ह्व़े सकदी छे?.
पांडे जीन त गद्दा .चदरो सिलवट को रूण त रूणो इ छौ! इन मा ड़्यारम कि जनानी इ काम आँदी ज्वा सफल जनानी तैं घर्या काम से निजात दिलांदी.
विजया बडथ्वाल विधयाक राई अर विधायक च अर मंत्री बि राई पण कजे चन्द्र मोहन तैं सबेर सुबेर परोंठा त चएंदा इ छया अब विजया बडथ्वाल
ढांगू - उदेपुर को दौंरा पर जाओ कि चन्द्र मोहन बडथ्वाल कुणि परोंठा बणाओ ! बस इखमी त सफल जनानी क पैथर एक जनानी चयेंद.
रीता नंदा ह्वाओ , शोभा डे ह्वाओ या ह्वाओ एकता कपूर यूँ सौब सफल जनान्युं क पैथर जनानी इ छन
पण इ जनानी सफल जनान्युं खुणि बुलणा रौंदन ,' तू सही छे, तू सही छे"
Copyright@ Bhishma Kukreti