उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Monday, January 7, 2013

सोनिया गाँधी अर मनमोहन सिंहजीs अण-सुऴज्यां दुःख

गढ़वाली हास्य व्यंग्य
हौंसि हौंस मा, चबोड़ इ चबोड़ मा

                           सोनिया गाँधी अर मनमोहनसिंह जीs अण-सुऴज्यां दुःख
                         चबोड्या : भीष्म कुकरेती

-सोनिया जी ! मि तै कुछ समजम नि आणु .
-मनमोहन जी ! मेरी बि बिंगणम नि आणु
-सोनिया जी ! मि तै कुछ नि दिख्याणु बल क्या ह्वाल?
-मन जी ! म्यार अगनै काळो अंध्यर च . राहुलो सौं जु एक बेथ अगनै बि दिखेणु हो .
-मिसेज गांधी ! मै लगद फिर से अन्तराष्ट्रीय छापोंम (पत्र - पत्रिका) मेरी काट हूण
-सरदार जी ! मै लगद राष्ट्रीय मीडियाम मेरी बड़ी बेज्जती हूण


-मैडम जी ! म्यार पुटकुंद त च्याळ पोड़ना छन बल इतियासम म्यार नाम नाकाबिल प्रधानमंत्रीs पतडोंम लिखे जालो
-सिंह साब ! मि तै निंद नि आन्दि बल क्या म्यरो राहुल बगैर प्रधान मंत्री पद पायुं चैन से रै साकल ?
- सोनिया जी ! मीरो रिफ़ॉर्मs बदौलत अम्बानी , पोंटि चड्ढा , मारन , जन धन्युं मातबरी हजारो गुणि बढ़ पण संयुक्त राष्ट्रे रिपोर्ट बथाणि च बल गरीबी मा कमि नि आणि च। सोनिया जी ! यि गरीब पैदा इ किलै हून्दन ?

-मनमोहन सिंह जी ! बिचारो राहुलन चुनावों बगत फर कथगा फिरड़-फराड़ कार। अर कोंग्रेसौ भितरै रिपोर्ट बथांदी बल वोटर राहुलो भकलौणम कतै नि आन्दन। जख जख राहुल गे उख हम चुनाव हरौं . मनमोहन जी ! इ भारतम गैर-कौंग्रेसी वोटर पैदा इ किलै होंदन?
-सोनिया जी अब द्याखो ना ! मेरी म्यरों आर्थिक नीति से अम्बानी , पोंटि चड्ढा , ए राजा जन लोग अब महलोंम रौण बिसे गेन अर यूएनओ रिपोर्ट बथाणि च बल तेतीस टका भारतीयोंम दस बाइ दस फीटो ड़्यार बि नी च। सोनिया जी !यूं गरीबोंम जब रौणै जगा नी च त यी गरीब-हीण लोग बच्चा पैदा इ किलै करदन ! यूं गरीबुं वजै से में सरीखा प्रकांड, विद्वान्, अर्थशास्त्रीs दुन्या -थौळ ( इंटरनेशनल फोरम) मा कथगा बेज्जती हूंद ?

-मन जी अब द्याखो ना ! नेहरु परिवारों वजै भारतम प्रजातंत्रम कथगा उन्नति ह्वे। अर यि भारतीय छन बल हमर राजकुमार राहुल गांधी छोड़िक नरेंद्र मोदी तै प्रधान मंत्री बणान चाणा छन . यी गैर कोंग्रेसी पार्टी भारत जन देसुम पैदा इ किलै हॊन्दन ? यूं गैर कोंग्रेसी नेतौं वजै से हमर राजकुमार सीधो प्रधान मंत्री नि बौण सकुद .

-सोनिया जी ! तुम त गवा छंवां बल म्यरी आर्थिक नीति से भारतम मतबरो कुण सैकड़ो अस्पताल खुलि गेन . दुन्याs बड़ा बड़ा पत्रकार यां पर मेरि बडे-प्रशंसा करदा नि अघान्दन . अर यु यूएनओ च बल मि तै दनकान्दु बल भारतम बाल मृत्यु दर बंगलादेस से बि जादा च अर भारत बाल मृत्यु दर कम करणम अबि भौत पैथर च . मेरि समजम इ नि आंदो जब यूं गरीब लोगुम खाणों नी च , पैरणो लारा नी च , रौणो कूड़ नी च त इ ब्या इ किलै करदन ? यूं गरीबों वजै से हम आर्थिक पंडितु कथगा बेज्जती हूणी च।
- मन जी ! त क्या करे जावो ?

-मै लगद यूएनओ रिपोर्ट ठीक करणों बान कपिल सिब्बल जी अर चिदम्बर जी तै यूएनओ भिजदां . यी द्वी संख्या /फैक्ट -फीगर तै तुड़ण -मरोड़नम उस्ताद छन . उख जैक इ द्वी काळो तै सुफेद सिद्ध त कौरि द्याल।
-अर मनमोहन जी ! इख राहुलो क्या होलु ?
-मैडम जी ! राहुल जी तै राष्ट्रीय स्वयं संघम नागपुर भेजि द्याओ
- मनमोहन जी यी क्या बुलणा छंवां। कोंग्रेस की नीति ?
-मैडम जी ऊनि बि क्वा पार्टी च ज्वा नीत्युं पर हिटणि च ?
-हाँ ! सिंह जी ! बुलणा त तुम सै छंवां। मि जरा अहमद पटेल जी तै बि पूछि लींदु

Copyright@ Bhishma Kukreti 8/01/2013