उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Thursday, August 14, 2014

देश बचाण त हम तैं इंडियन ब्रैंड खरीदण पोड़ल

घपरोळया , हंसोड्या , चुनगेर ,चबोड़्या -चखन्यौर्या -भीष्म कुकरेती      
                     
(s =आधी अ  = अ , क , का , की ,  आदि )

" भारत की आर्थिक दशा सुधारण अर भारत तैं स्वालम्बी बणनो  एकी एकमेव उपाय च। "  इंडिकोन रेफ्रिजरेटर कम्पनी मालिक वेणु गोपाल डालमियान जोर सेबवाल। 

 " क्या उपाय च ?" मीन पूछ। मि इंडिकोन रेफ्रिजरेटर कम्पनी मालिक वेणु गोपाल डालमिया का कैबिन  मा उंक दगड़ चाय पीणु छौ
" हरेक भारतीय उपभोक्ता तैं भारत मा बणी चीज खरीदण चयेंद।" डालमियान मेज पर जोर कैक हाथ मारद ब्वाल। " जब बि क्वी ग्राहक फॉरेन ब्रैंड टीवी या फ्रिज खरीददो तो एक भारतीय तैं बेरोजगार बणान्द।  एक भारतीय बेरोजगार हूंद तो माने भारत की आर्थिक स्तिथि खराब हूंद।  भारतीय चीज खरीदण से एक भारतीय तैं रोजगार मिलद तो वो माल खरीददो अर रोजगार बढांद। " 
" यु एक चक्र च। " मीन उत्तर दे। 
इथगा मा वेणु गोपालक सेक्रेटरी आई ," सर ! स्टील ब्रोकर फोन पर च। "
वेणु गोपालन फोन उठाइ ," हे भै ! पटेल ! यी क्या भै ? अबि तलक जापान से स्टील शीट जाज मा नि चढ़ेन ? अरे भाड़ मा जाउ रुल रेगुलेसन।  कुछ खलाओ पिलाओ या कुछ बि कारो जापानीज़ स्टील शीट्स टैम पर पौंछण चयेंदन।  त्वे से नि हूंद त मि मजीठिया ब्रोकर से माल मंगौल "
" क्या स्टील जपान से मंगौदा ?" मीन पूछ। 
वेणु गोपालन जबाब दे ," हाँ पैल इखि भारतीय कम्पनी बिटेन लींद छा पर जापानीज़ क्वालिटी अर प्राइस इज मोर कंपिटेटिव दैन दीज ब्लडी इंडियन स्टील कंपनीज। "
इथगा मा फोन बज , वेणुन फोन उठाई ," अच्छा !" " कुकरेती जी ताइवान से फोन च।  यस मिस्टर ताइचेन ! भै रेफ्रिजरेटर का हैंडल चौड़ भ्याजो।  अच्छा तुमर कम्पनीन बड़ा फ्रिजुं बान नै हैंडल डिजाइन कौरी आल ? तो ठीक च सैम्पल भ्याजो। प्राइस ठीक राली तो हम इंडियन मेड हैंडल छोड़िक तुमर हैंडल ही खरीदला। "
एक अधिकारी  एक बढ़िया ट्रे मा कुछ रुमाल अर टाइ लेक आइ ," सर स्टाफ का वास्ता दिवाली मा हमन इ टाइ अर रुमाल सलेक्ट करिन।  आप जरा सैंक्सन करी द्योला त हम इंडोनेशियन कम्पनी तैं ऑर्डर भेज द्योला। 
वेणु गोपाल ," भारतीय कम्पन्यूं से बि कोटेसन ले कि ना  ?"
अधिकारी ," सर हम कै तैं बि इंडियन सप्लायरुं पर पक्को भरवस नी च।  इण्डोनेसियन्स आर मोर रिलायबल दैन दीज लेजी इंडियन सप्लायर्स। "
वेणु गोपाल डालमियान कुछ टाइ अर रुमाल सलेक्ट करिन अर तुरंत परचेज ऑर्डर बणानो बोलि।
एक हैंक अधिकारी आई ," सर ! हमन चीन की मोटर टेस्ट करी ऐन।  यद्यपि चीनी मोटर भारतीय मोटरूं से क्वालिटी मा ठीक नि छन किन्तु प्राइस मा थर्टी  पर्सेंट कम छन। "
" ठीक च चीनी कंपनी तैं ऑर्डर दे दो। " वेणु गोपालन आदेश दे। 
अधिकारी - सर इंडियन कम्पनी तैं क्या जबाब द्योला ? तीस साल से हम ऊंमांगन मोटर खरीददा छा। 
वेणु गोपाल - टेल द्यम - गो टु हेल !
एक अधिकारी - सर आपका  अफ्रिका से अयाँ जुत कस्टम गोडाउन मा पड्यां छन उखमा कस्टम वाळ पंगा लीणा छन। 
वेणु गोपाल - ठीक च कस्टम क्लियरेंस एजेंटकुण ब्वालो कि खिलै -पिलैक कस्टम से क्लियर करे लेन।  अच्छा ! उ डेनमार्क से फर्नीचर आण वाळ छौ ?
अधिकारी - सर  जाज अबि हाइ सी मा च बस नितरस्यूं  जहाज पोर्ट पर लग जालो।
वेणु -  दैट्स फाइन 
वेणु डालमिया - अच्छा कुकरेती जी ! हम क्या बात करणा छया ?
मी - आप बुलणा छया कि हरेक भारतीय उपभोक्ता तैं भारत मा बणी चीज खरीदण चयेंद।
वेणु गोपाल - हाँ यदि भारत की आर्थिक दशा सुधारण त हम भारतीयों कर्तव्य च की भारीतय ब्रैंड खरीदवां । अगला हफ्ता हमर असोसिएसन वित्त मंत्री अर कॉमर्स मंत्री से मिलणो जाणु च कि हमर इंसेटिव बढ़ाये जाव कि हम इंडियन ब्रैञडू तैं प्रमोट कर सकवां।  
मी - ये आपक कमीजका कफलिन बड़ा बढ़िया छन।  कैं कम्पनी का छन ?
वेणु डालमिया - यी मीन पेरिस से बाइ एयर मंगैन। 


Copyright@  Bhishma Kukreti  13 0/8/ 2014       
*लेख में  घटनाएँ , स्थान व नाम काल्पनिक हैं । 

  
Garhwali Humor in Garhwali Language, Himalayan Satire in Garhwali Language , Uttarakhandi Wit in Garhwali Language , North Indian Spoof in Garhwali Language , Regional Language Lampoon in Garhwali Language , Ridicule in Garhwali Language  , Mockery in Garhwali Language, Send-up in Garhwali Language, Disdain in Garhwali Language, Hilarity in Garhwali Language, Cheerfulness in Garhwali Language; Garhwali Humor in Garhwali Language from Pauri Garhwal; Himalayan Satire in Garhwali Language from Rudraprayag Garhwal; Uttarakhandi Wit in Garhwali Language from Chamoli Garhwal; North Indian Spoof in Garhwali Language from Tehri Garhwal; , Regional Language Lampoon in Garhwali Language from Uttarkashi Garhwal; Ridicule in Garhwali Language from Bhabhar Garhwal; Mockery  in Garhwali Language from Lansdowne Garhwal; Hilarity in Garhwali Language from Kotdwara Garhwal; Cheerfulness in Garhwali Language from Haridwar;