उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Friday, August 1, 2014

दादू मेरी उल्यारू जिकुड़ी दादू मी पर्वतों को वासी


दादू मेरी सोंज्यड़या च काकू दादू मेरी गेल्या च हिलांसी !
छायो मी बाजी को पियारो छायो मी मांजी को लाडूलो
छो मेरा गोला को हंसुलो दादू रे बोजी को बिटूलो !
दादू मिन रोसल्युन का बीच बैठी की बांसुली बजैनी
दादू मिन चैरी की चुलाखूयूँ चलखदा हुंयु चुला देखिनी !
देखि मिन म्वआरयूँ को रुनाट दादू रे कौथिग का थाल
दादू रे बे पोतली देखिनी लेन मिन रेशमी रुमाल !
दादू वो रूडी का कौथिग सुयुन्द सी सैंडा माँ की कूल