उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Thursday, February 19, 2015

आकाश मा भीड़भाड़ से जाम

Best  Harmless Garhwali Humor on Road Congestion   , Garhwali Comedy Skits on Road Congestion , Satire on Road Congestion , Wit, Sarcasm on Road Congestion   , Garhwali Skits on Road Congestion Garhwali Vyangya on Road Congestion , Garhwali Hasya on Road Congestion

                      जै दिन चांदनी चौक मा जाम नि होलु तो क्या ह्वालु ?
                                चबोड़्या  - भीष्म कुकरेती 

 अजकाल मुंबई या दिल्ली आदि शहरूं माँ सडकुं मा जाम पर जाम लग्युं रौंद। . जैदिन सडकुं मा जाम नि लग त टीवी चैनेलुं मा दर्शकुं पर  मुंडर फैलाणो वास्ता सुबेर बिटेन स्याम तक टीवी चैनेलुं मा हर दस मिनट मा ब्रेकिंग न्यूज आंद - आज दिल्ली की चांदनी चौक मा जाम नि ह्वे , आज दिल्ली की चांदनी चौक माँ जाम नि ह्वेआज खुली सड़क देखिक भौत सा ड्राइवर बेहोस ह्वेन जाँसे जाम ह्वे अर तब लोगुं तैं लग कि दिल्ली अपण वास्तविक स्थिति मा ऐ गे। 
स्याम दैं हरेक टीवी चैनेल छै बजि बिटेन बहस कराण लग जांदन अर विषय हूंद -  क्या चादनी चौक में जाम न होने से प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को इस्तीफा दे देना चाहिए ?
आम आदमी पार्टी का प्रवक्ता टीवी चैनेलुं जैजैक बुल्दन कि चूँकि दिल्ली तैं पूर्ण राज्य कु दर्जा  नि मिलण से दिल्ली मा जाम नी होणु च त प्रधान मंत्री तैं अब्यक अबि इस्तीफा दीण चयेंद।
दिल्ली का पत्रकार बहस मा भाग लींद लींद बुल्दो बल चादनी चौक मा सड़क जाम नि हूण से दिल्ली अपणी पहचान , अपणी संस्कृति अर अपण व्यवहार खतम करणि  च तो प्रधान मंत्री ना सै त परिवहन मंत्री तैं इस्तीफा दीण चयेंद। 
कॉंग्रेस प्रवक्ता तैं चूँकि टीवी ऐंकर क्वी प्रश्न इ नि पुछदन तो हर टीवी चैनेल मा कॉंग्रेसी प्रवक्ता बार बार टीवी ऐंकर तै याद दिलांदु या दिलांदी कि हम से भी प्रश्न पूछो , हम से भी प्रश्न पूछो , जब हमर राज छौ तो छुटि गळि  से लेकि चौड़ी सड़क तक हर समय जाम रौंद छौ।  पर टीवी ऐंकर फिर बि कॉंग्रेसी प्रवक्ता से सवाल इ नि करदन। 
भाजपा का प्रवक्ता हरेक टीवी चैनेल मा जैक जैक बखान करद कि जाम नि हूणै पैथर आम आदमी पार्टी कु फैसला जुमेवार च।  ना आप पार्टी वीआईपी कल्चर खतम करदी ना इ दिल्ली मा सड़क पर जाम खतम हूंद।  इलै अरविन्द कजीरवाल तैं इस्तीफा दीण चयेंद। 
ऊना सड़क खाली हूण से कथगा इ सामजिक विन्यास माँ बिघ्न बाधा  बि पड़न लग  गेन। 
मिसेज रोजी रोटी अर मिस्टर रोजी रोटी अपण दफ्तर से बिलकुल समय पर हि घर का वास्ता निकळदा  छया अर पैल आठ या नौ बजि तक ही घौर पौंछदा छा।  अब वैदिन गुड़गांव नाका पर जाम नि ह्वे त मिसेज रोजी रोटी अर मिस्टर रोजी रोटी साढ़े छै बजि हि अपण फ़्लैट मा पौंछि गेन अर ऊंन पायी कि वूंक नौनु अर वैक गर्ल फ्रेंड संगीत का नशा मा डांस करणा छन। मिसेज रोजी रोटी अर मिस्टर रोजी रोटी द्वी झण जल्दी आण से शरमाणा छया , हीन भावना से ग्रसित छया , पछताणा छया।  नौनन अपण गर्ल फ्रेंड तैं भैर छवाड़ अर फिर अपण ब्वै बाब तैं दनकाण बिसे गे - आप लोगुं मा क्वी सेन्स नी च।  यदि जाम नि छौ तो बि समय से पैल घौर आणै जरूरत क्या छे ?आग त नि लगीं छे बिल्डिंग मा ?   इथगा मॉल छन कखि बि समय बितै लींदा।  आज से जाम हो या ना साढ़े आठ बजि  से पैल घर नि आण।  मेरी प्राइवेसी मा खलल पोड जांद। 
आज दिल्ली या मुंबई जाम संस्कृति की गुलाम ह्वे गे अर यांसे यदि जाम नि हो तो सांस्कृतिक , सामाजिक  , धार्मिक अर राजनीतिक धमाल शुरू ह्वे जांद। आपक शहर का क्या हाल छन ?


18/2/15 , Copyright@ Bhishma Kukreti , Mumbai India 

*लेख की   घटनाएँ ,  स्थान व नाम काल्पनिक हैं । लेख में  कथाएँ चरित्र , स्थान केवल व्यंग्य रचने  हेतु उपयोग किये गए हैं।
Best of Garhwali Humor in Garhwali Language ; Best of Himalayan Satire in Garhwali Language ; Best of  Uttarakhandi Wit in Garhwali Language ; Best of  North Indian Spoof in Garhwali Language ; Best of  Regional Language Lampoon in Garhwali Language ; Best of  Ridicule in Garhwali Language  ; Best of  Mockery in Garhwali Language  ; Best of  Send-up in Garhwali Language  ; Best of  Disdain in Garhwali Language ; Best of  Hilarity in Garhwali Language  ; Best of  Cheerfulness in Garhwali Language  ;  Best of Garhwali Humor in Garhwali Language from Pauri Garhwal  ; Best of Himalayan Satire in Garhwali Language from Rudraprayag Garhwal  ; Best of Uttarakhandi Wit in Garhwali Language from Chamoli Garhwal  ; Best of North Indian Spoof in Garhwali Language from Tehri Garhwal  ; Best of Regional Language Lampoon in Garhwali Language from Uttarkashi Garhwal  ; Best of Ridicule in Garhwali Language from Bhabhar Garhwal  ; Best of Mockery  in Garhwali Language from Lansdowne Garhwal  ; Best of Hilarity in Garhwali Language from Kotdwara Garhwal  ; Best of Cheerfulness in Garhwali Language from Haridwar  ;
Garhwali Vyangya , Garhwali Hasya,  Garhwali skits; Garhwali short skits, Garhwali Comedy Skits, Humorous Skits in Garhwali, Wit Garhwali Skits