उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Wednesday, May 4, 2016

हरिद्वार , बिजनौर , सहारनपुर इतिहास संदर्भ में अश्वघोष

Ashwaghosh  and Haridwar, History Bijnor,   Saharanpur History

  हरिद्वार  ,  बिजनौर   , सहारनपुर   इतिहास संदर्भ में अश्वघोष 

        Ancient  History of Haridwar, History Bijnor,   Saharanpur History  Part  -  175                      
                                                हरिद्वार इतिहास ,  बिजनौर  इतिहास , सहारनपुर   इतिहास  -आदिकाल से सन 1947 तक-भाग -  175                

                                               इतिहास विद्यार्थी ::: भीष्म कुकरेती  


        
        बिजनौर , हरिद्वार , सहारनपुर के  व दक्षिण एसिया सम्राट  कनिष्क की पाटलिपुत्र विजय यात्रा में कनिष्क को महान संस्कृत नाटककार व काव्यकार अश्वघोष भी मिले थे।  कनिष्क अश्वघोष को पुष्पपुर (पेशावर ) ले गया। था।  
अश्वघोष के महाकव्य -
बुद्धचरित - संस्कृत में बुद्धचरित खंडित मिलता है किन्तु चीनी व तिब्ब्ती अनुबाद हैं। 
सौंदरनंद 
अश्वघोष के नाटक 
सारिपुत्र - खंडित संस्कृत नाटक तरिम उपत्यका में मिला है 
राष्ट्रपाल - का अनुवाद व मूल अभी तक नहीं मिला है 
कालिदास का पूर्ववर्ती साहित्यकार  अश्वघोष  की रचनाओं में  कालिदास जैसी समानताएं मिलती हैं। 
 

Copyright@ Bhishma Kukreti  Mumbai, India  4/ 5/2016 
   History of Haridwar, Bijnor, Saharanpur  to be continued Part  --176

 हरिद्वार,  बिजनौर , सहारनपुर का आदिकाल से सन 1947 तक इतिहास  to be continued -भाग -176



      Ancient History of Kankhal, Haridwar, Uttarakhand ;   Ancient History of Har ki Paidi Haridwar, Uttarakhand ;   Ancient History of Jwalapur Haridwar, Uttarakhand ;   Ancient  History of Telpura Haridwar, Uttarakhand  ;   Ancient  History of Sakrauda Haridwar, Uttarakhand ;   Ancient  History of Bhagwanpur Haridwar, Uttarakhand ;   Ancient   History of Roorkee, Haridwar, Uttarakhand  ;  Ancient  History of Jhabarera Haridwar, Uttarakhand  ;   Ancient History of Manglaur Haridwar, Uttarakhand ;   Ancient  History of Laksar; Haridwar, Uttarakhand ;     Ancient History of Sultanpur,  Haridwar, Uttarakhand ;     Ancient  History of Pathri Haridwar, Uttarakhand ;    Ancient History of Landhaur Haridwar, Uttarakhand ;   Ancient History of Bahdarabad, Uttarakhand ; Haridwar;      History of Narsan Haridwar, Uttarakhand ;    Ancient History of Bijnor;    Ancient  History of Nazibabad Bijnor ;    Ancient History of Saharanpur;   Ancient  History of Nakur , Saharanpur;    Ancient   History of Deoband, Saharanpur;     Ancient  History of Badhsharbaugh , Saharanpur;   Ancient Saharanpur History,     Ancient Bijnor History;
कनखल , हरिद्वार का इतिहास ; तेलपुरा , हरिद्वार का इतिहास ; सकरौदा ,  हरिद्वार का इतिहास ; भगवानपुर , हरिद्वार का इतिहास ;रुड़की ,हरिद्वार का इतिहास ; झाब्रेरा हरिद्वार का इतिहास ; मंगलौर हरिद्वार का इतिहास ;लक्सर हरिद्वार का इतिहास ;सुल्तानपुर ,हरिद्वार का इतिहास ;पाथरी , हरिद्वार का इतिहास ; बहदराबाद , हरिद्वार का इतिहास ; लंढौर , हरिद्वार का इतिहास ;बिजनौर इतिहास; नगीना ,  बिजनौर इतिहास; नजीबाबाद , नूरपुर , बिजनौर इतिहास;सहारनपुर इतिहास;  Haridwar Itihas, Bijnor Itihas, Saharanpur Itihas