उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Wednesday, November 28, 2012

जी हां ! देहरादून राजधानी च !

गढ़वाली हास्य व्यंग्य
हौंसि हौंस मा, चबोड़ इ चबोड़ मा

                 जी हां ! देहरादून राजधानी च !
                       चबोड्या : भीष्म कुकरेती

कत्युं सणि भर्वस नि हूंद बल देहरादून राजधानी च . वू अबि बि समजणा छन बल पहाड़ी राज्यौ राजधानी अर सैणी (मैदान )जगाम ?
पण देहरादून राजधानी च यांको सबूत च बल इख बारा सालम सात दै अलग अलग मुख्यमंत्र्युंन सौं घटिन। अर यांको सबूत च बल ब्याळै ( भूतपूर्ब ) मुख्यमंत्र्युं बंगला .

हमर देसम रिवाज च बल मुख्यमंत्री सौं पैथर घटुद वैकि पार्टी वळा वैका विरोध पैलि करण मिसे जांदन अचकाल कॉंग्रेसी बैनर बथाणा छन बल यि लोग प्रजातंत्र बचाणों बान विजय बहुगुणा तै मुख्यमंत्री कुर्सी बिटेन धक्याणा छन . अपणी पार्टी वळ अपणों मुख्यमंत्री हटाणो बान जै जगाम बैनर टांगन त माने जांद बल वा जगा प्रदेश राजधानी च। चूंकि कॉंग्रेसी देहरादूनम कोंग्रेसी मुख्यमंत्री विरोध करणा रौंदन त मतबल साफ़ च देहरादून राजधानी च .

राजधानिम सचिवालय हूंद जख फ़ाइल हून्दन . देहरादूनम बि एक जगा फाइलों चट्टा छन याने कि देहरादून अछेकि राजधानी च . जैं जगा तै सचिवालय बोले जावु अर न्याड़ -ध्वार पावर ब्रोकर या दालालो (गलादार ) चट्टा बट्टा लग्याँ ह्वावन त बुले जांद बल या राजधानी च गलादारों पिपड़कारो (भीड़ ) से त लगद बल देहरादून प्रदेश ना केन्द्रीय राजधानी ह्वाओ
जख इना उना लाल बत्ती इ लाल बत्तिक गाड़ी दिख्यावन वीं जगा नाम राजधानी होंद अर यां से बि सिद्ध होंद बल देहरादून राजधानी च .
राजधानी क एक गुण होंद बल नजीको कमिश्नरी क अधिकारी , लिपिक वर्ग कमिश्नरी छोड़िक राजधानी जोग ह्वे जांद . पौडिक कमिश्नरी गेटढकी (गेट बंद हो )देखिक त सिद्ध होंद बल देहरादून राजधानी च .

जगा जगा जैं जगा जाम इ जाम ह्वाओं त जाणि जावो बल जगा राजधानी च .जगा -कुजगा जाम बथांद बल देहरादून राजधानी च .
जख कूड़ो से जादा कूड़ो गलादार (इस्टेट एजेंट ) ह्वावन त बींगी ल्याओ बल आप राजधानीम छ्याओ। देहरादुनम कूड़ कम कूडू गलादार जादा छन .

जख डाळु जंगळ नि ह्वावन पण कंक्रीटो जंगळ ह्वावन त वा निसाणी राजधानी च अर अचकाल त स्कूल्या निबन्ध लिखदन बल वन्स अपौन अ टाइम देहरादूनम जंगळ छा , बासमती खेती हूंदी छे , लीची बगीचा छा अब इख कंक्रीटो जंगळ छन अर घूसखोरी -भ्रस्टाचारै खेती हूंदी .

जख ट्रैफिक पुलिस तै दनकाए जावो बल जाणता नई मै कौण ऊं ! किस मंत्री का साला हूं ? त समजि ल्यायो बल तुम कै राजधानीम छवां . देहरादूनम हरेक चौराहा पर ट्रैफिक तोडन वाळ कै ना कै मंत्री या सन्त्रीक रिश्तेदार या नजीकि होंद .
पैल जख चोरि बड़ी खबर हूंदी ह्वाओ अर अब आज जख चोरी तै खबर इ नि मने जावो त समजी ल्याओ तुम राजधानिम घुमणा छा। अब देहरादुनम चोरी जारि तै दैनंदनी मने जांद .

जख स्थानीय लोगु भाषौ बेजती ह्वाओ त बींगी ल्याओ या जगा राजधानी च।
जख अपण भाषौ बुलेंदर कम होंद जावन अर दगड़म पाणिक बि कमि ह्वाओ त समजी ल्याओ या राजधानी च . देहरादूनम गढ़वाली बुलेंदारो बि कमि हुणि च अर दगड़म पाणि बि कमि होणि च याने सही मानेम देहरादून प्रदेश राजधानी च
उन हौर बि लक्षण छन जो सिद्ध करदन बल देहरादून राजधानी च ये बाराम बकै भोळ ...

- Copyright@ Bhishma Kukreti 29/11/2012