उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Monday, January 5, 2015

वैदिक आर्यों का ग्रामीण जीवन व व्यवस्था

  Village Life of Aryans reference to history of Haridwar, Bijnor and Saharanpur
                           

                            हरिद्वार , बिजनौर , सहारनपुर इतिहास संदर्भ में वैदिक आर्यों का ग्रामीण जीवन व व्यवस्था 


                                                       History of Haridwar Part  --40   
                                            हरिद्वार का आदिकाल से सन 1947 तक इतिहास -भाग -409                                                                                      
                           
                                                   इतिहास विद्यार्थी ::: भीष्म कुकरेती
  वैदिक आर्य गाँवों में निवास करते थे।  गाँव एक दूसरे के नजदीक व दूर दूर भी होते थे। छोटी छोटी पगडंडियां गाँवों को जोड़तीं थीं। वैदिक आर्य गांवों में पशुओं के साथ रहते थे व रोज उन्हें जंगल के चारगाह ले जाते थे व संध्या समय घर ले आते थे। अलग अलग घरों में रहने की प्रथा थी व कभी कभी कोट /किला /गढ़ /पुर भी बनाये जाते थे। घरों के अंदर व बाहर अन्न रखा जाता था।  
वैदिक काल में श्रम विभाजन शुरू हो चुका था और निम्न वर्ग थे -
कृषक
ब्राह्मण
क्षत्रिय 
बढ़ई
धातुकार /कमीर् 
ग्राम प्रधान जो राजा द्वारा नियुक्त होता था। 
सभी ग्रामीण किसी राजा के अधीन होते थे। 
भोजन में सत्तू का प्रयोग अधिक था , दूध , दही घी की प्रचुरता थी। 
मेढ़ों का मांश खाया जाता था। 
सोम रस मुख्य पेय था जो उर्ज्वान व मद्ययुक्त था। 
रात्रि को सामूहिक मनोरंजन होता था और सोमरस पीया जाता था। सोमरस घड़ों में रखा जाता था। 
  


**संदर्भ - ---
वैदिक इंडेक्स
डा शिव प्रसाद डबराल , उत्तराखंड  इतिहास - भाग -२
राहुल -ऋग्वेदिक आर्य
मजूमदार , पुसलकर , वैदिक एज
Copyright@ Bhishma Kukreti  Mumbai, India 4 /1/2015 

Contact--- bckukreti@gmail.com 
History of Haridwar to be continued in  हरिद्वार का आदिकाल से सन 1947 तक इतिहास; बिजनौर इतिहास, सहारनपुर इतिहास  -भाग 41

Village Life of Vedic Aryans in context History of Kankhal, Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Har ki Paidi Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Jwalapur Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Telpura Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Sakrauda Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Bhagwanpur Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Roorkee, Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Jhabarera Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Manglaur Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Laksar; Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Sultanpur,  Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Pathri Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Landhaur Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Bahdarabad, Uttarakhand ; Haridwar; Village Life of Vedic Aryans in context History of Narsan Haridwar, Uttarakhand ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Bijnor; Village Life of Vedic Aryans in context History of Nazibabad Bijnor ; Village Life of Vedic Aryans in context History of Saharanpur
कनखल हरिद्वार का इतिहास तेलपुरा हरिद्वार का इतिहास सकरौदा,  हरिद्वार का इतिहास भगवानपुर हरिद्वार का इतिहास ;रुड़की ,हरिद्वार का इतिहास झाब्रेरा हरिद्वार का इतिहास मंगलौर हरिद्वार का इतिहास;लक्सर हरिद्वार का इतिहास ;सुल्तानपुर ,हरिद्वार का इतिहास ;पाथरी ,हरिद्वार का इतिहास बहदराबाद हरिद्वार का इतिहास लंढौर हरिद्वार का इतिहास ;बिजनौर इतिहासनगीना ,  बिजनौर इतिहासनजीबाबाद ,नूरपुर बिजनौर इतिहास;सहारनपुर इतिहास