उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Tuesday, September 8, 2009

!! रोतेली- अखोडी की याद म !!

मेरी सिय रोतेली कनि प्यारी अखोडी !!
नि सयेंदी खुद जब अंखियों म ओन्दा आंसू बोडी !!
जख छन सी नोऊ खम्बिया तिबारी,और सी बल्दू की जोड़ी !
जख छन बरोमास लेन्दि भेंसी और लेन्दि गोडी !!

कनि रोतियाली छ सिय ताल की धार !
जख डंडियों बिटिन ओंदी सुर सुरिया भार !!
स्वाणु लगदु थोऊ कुल्दै म कु मौयार !
बुगियला म पस्रिक मन नि करदू जान का घर !!

परदेश वाला जब ओन्दा ढुमका बाज़ार !
चौ तरफी मौलीयार देखि मन म येज्नादु उलार !!
धन- २ भाग इन्द्रमणि जी तुमुक !
अखोडी म जन्म लीनी उत्तराखंड छोड़ी चली गईं हमुक

प्रेना छन इन्द्रमणि जी जन सूरज सी सबूक !
भगियान ओये गईं सी बिचारा . विकास करिगैन चौमुक !!
वे वीर पुरुष का जान सी अखोडी म पड़ेगी रुमक !
सत् -२ परणाम ये वीर पुरुष तुमुक !!

जेठ दुपेर म होन्दु अखोडी म क्रिकेट कु खेल !
गेंहू - जो की दै म बेटी - ब्वारियो कु हुलेटू कु मेल !!
महादेव का खम्ब म लियोन म अखोडी सदनी रही अगाडी !
ताल और जंगल काटन म बेटी-ब्वारी नि रन्धि पिछ्वाडी !!

बोलिया म लेगी झंडा व्हेगी सुरु रामलीला !
रनभुत भी होए गें सुरु होंदी पांडव लीला !!
य्गास -बग्वाल म बेटी-ब्वारी लागोदीन झुमेला !
जू तोंका खुदेडू गीत सुन्द्दु तोंका असू ये जाला !!

चौ तरफी जख देवतों कु वासः छ अखोडी जख !
नर्सिंग, नगेला, नागराजा, घंडियाल देवता छन जख !!
सजी रन्धि ग्यहरा गाँव की डोली !
सोलह जातियों का पढिया लिखियाँ लीग जख !
हर जगह बिभागो म बतियाँ जख !!
कुटुम्ब्दारी याखुली अखोडी छोड़ी जोंकी !
परदेश म नौकरी कनि मज़बूरी छ तोंकि !!

अखोडी सी जनि स्वर्ग सी जगह नीं कखी !
मेरी सिय रोतेली कनि प्यारी अखोडी !!
शिल्गा,नौली.ग्वाड,दम्दरा का धारु कु सु ठण्डु पानी !
जब यु धारु की याद ओंदी परदेश म ता जुकडी झूरादी !!

गुयिर छोरा जब घंडियाल बिटिन बंसुली बजाला !
जवानी म रोन्श चढली,तभ प्रेम म गला भेटेलु !१
बणु का बेर जब कन्दुलियो म सुनेड़ा!
दुदेरा छोरा भी घर म ग्वायिया लगोंडा !!


बुदेन्दि बगत बे-बाबु अखोडी छोड़ीया छन !
आश - उम्मीद सी छोरो की दीन कटना छन !!
मेरी सिय रोतेली कनि प्यारी अखोडी !!
नि सयेंदी खुद जब अंखियों म ओन्दा आंसू बोडी !!

B.S.Rawat