उत्तराखंडी ई-पत्रिका की गतिविधियाँ ई-मेल पर

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

उत्तराखंडी ई-पत्रिका

Sunday, December 23, 2012

हार जीतौ छाण निराळ (विश्लेषण )

गढ़वाली हास्य व्यंग्य
हौंसि हौंस मा, चबोड़ इ चबोड़ मा
                        हार जीतौ छाण निराळ (विश्लेषण )
                                चबोड्या : भीष्म कुकरेती
मि अपण समाजम बचपन इ बिटेन हार जीतौ छाण निराळ (विश्लेषण ) करणम उस्ताद माने जांदु . वांक एकि वजै च बल मी इतिहासम फस्ट आन्दु छौ . अशोक की जीत ह्वाउ . कलिंग राजाक हार ह्वाउ या कारगिलम भारत की जीत ह्वाउ वांक कारण एकि हूंदन . फिर एबी गुजरातम नरेंद्र मोदी जीत या हिमाचलम कोंग्रेस जीत मि फटाक से विश्लेषण कौरि दींदु किलैकि मि इतिहासम फस्ट आन्दु छौ .

अब द्याखो ना मि बगैर सूच्या समज्या बोलि सकुद बल अशोक भौत देर से कलिंग से जीत किलैकि कलिंग राजा अर वैका सैनिको मा दृढ निश्चय छौ अर सन 2012 को चुनावम मोदी बि अपण जीत को प्रति दृढ निश्चयी छौ

मि बगैर टीवी चैनेल दिख्यां या खबर पौडिक बथै द्योलू बल पौरव सिकन्दर से इलै हार किलैकि भारतीय राजाओंम आपसम बैमनस्या छे जन भारतीय जनता पार्टी उत्तराखंडम सन 2012क चुनाव इलै हार किलैकि भारतीय जनता पार्टीम आपसम घिम्साण मची छे या आपसम फूट पड़ी छे अर इनि हिमाचलम भारतीय जनता पार्टिक द्वी बड़ा बड़ा फुन्द्यानाथ धुमाल अर शांता कुमारंम गुरा -नेवला या कुकर-बिरळ जन दुस्मनात चलणी छे त भारतीय जनता पार्टी कोंग्रेस पर भयंकर भ्रस्टाचारौ होणो उपरान्त बि हिमाचलम बुरी तरां से हार .

मि इतायासो पेपरम लिखुद छौ बल राणा सांगाक सैनिक अर हाथी बिभरमित छा त राणा सांगा हार अर अकबर जीत , राणा सांगाक सेनाम पैनो नेतृत्व कमि छे त अब बात सै च बल गुजरातम कोंग्रेस्यूं तै पता इ नि छौ बल चुनाव लड्नो बान पैनो नेत्रित्व चयांद।
सिकन्दर अर पौरव की लडेक खासियत छे बल सिकंदरम आधुनिक हथियार था त गुजरातौ चुनावम नरेंद्र मोदीन इन्टरनेट - ट्वीटर अर थ्री डी जन नया हथियार इस्तेमाल करिन अर राहुल गांधी सरीखा महारथी या शंकर सिंग बाघेला जन रथी अर हौर कॉंग्रेसी घैल ह्वेन, कति कांग्रेसी त चित इ ह्वे गेन

मि इतिहासौ परीक्षाम बगैर सुच्यां समज्याँ लेखी दींदु थौ बल अकबरन भारत का राजाओं तैं इलै जीत बल किलैकि यूं राजौं मा एका नि छौ अर इम्तानम अब्बल नंबर पान्दु थौ अब जब मि लिखुद कि गुजरातम नरी अमीनन कोंग्रेस अर हिमाचल जनता पार्टीन छ्त्यानास कार त बंचनेर मी तै बुद्धिजीवी क तगमा पैरै दीन्दन

मी परीक्षा मा लिखुद छौ बल अठारा सौ सतावन की गदरम कुशल नेत्रित्व अर भारतीय लड़ाकोंम सामंजस्य की कमी छे अर मी डिंसटिंकसन माँ पास ह्वे जांदु छौ इनि जब भुप्यारौ कुणि भारत -इंग्लैण्डऔ ट्वेंटी-ट्वेंटी क्रिकेट मैचम भारत जीत त मीन फेस बुकम ल्याख बल महेन्द्र सिंग धोनी एक कुशल नेता च , भारतीय खिलाड्यूंम सामंजस्य च त फेस बुकम हजारो लोगुन म्यार कमेन्ट तै 'लाइक' कार . ब्याळि इंग्लैण्ड जीत अर भारत हार त मीन लेखी द्याई बल महेन्द्र सिंग धोनी जाणदो इ नी च बल नेत्रित्व क्या हूंद अर भारतीय खिलाड्यूं तै पता इ नी च बल खेलम सामंजस्य की भौत जरुरत होंदी . म्यार कमेंट्स पर 'लाइक ' की लंग्त्यार लगीं च
हार या जीतौ नियम फिक्स छन अर चुनावी लडे या क्रिक्यटै लडे दुयुं म यूँ नियमुं तै बतैक अबि तलक बडो विश्लेषक बण्यु छौं . आप बि विश्लेषक बौणि सकदवा बस आप तै सिकंदरक जीत अर पौरवक हार का कारण पता हूण चएंदन फिर जैदिन भारतीय क्रिकेट टीम जीति जावो वैदिन भारतीय क्रिकेट टीम पर सिकंदर का जीतणों कारणों तै फिट कौरि द्याओ अर जैदिन भारतीय टीम मैच हारि जावो वैदिन भारतीय टीम तै पौरव की सेना बणै द्याओ .

आशा च भोळ बिटेन आप बि कुशल विश्लेषकों श्रेणी मा ऐ जैल्या !

Copyright@ Bhishma Kukreti 23/12/2012